आज का राहुकाल/ 10 दिसंबर-16 दिसंबर (दिल्ली)

  • Mon
  • Tue
  • Wed
  • Thu
  • Fri
  • Sat
  • Sun
आज का राहुकाल
08:20 - 09:38

आज का राहुकाल
14:50 - 16:08

आज का राहुकाल
12:14 - 13:32

आज का राहुकाल
13:33 - 14:51

आज का राहुकाल
10:57 - 12:15

आज का राहुकाल
09:40 - 10:58

आज का राहुकाल
16:10 - 17:28

धनतेरस पर बनें धनवान
अनुवाद उपलब्ध नहीं है |

धनतेरस पर बनें धनवान

 

दीपावली का उत्सव पांच दिनों तक माना जाता है। इसकी शुरुआत धनतेरस या धन त्रयोदशी के दिन से मानी जाती है और भैया दूज तक चलती है। त्रयोदशी को धनतेरस कहा जाता है। इस दिन धन्वन्तरी जयंती मनाने के साथ साथ घर आँगन को साफ किया जाता है, बर्तनों को चमका दिया जाता है, अगर मुमकिन हो तो घर की लिपाई-पुताई की जाती है। इस बारे में कालतत्वविवेक के पृष्ठ 323 और निर्णयसिंधु के पृष्ठ 296 पर विस्तार से बताया गया है। इस दिन धातु से बना कोई पात्र जरुर खरीदना चाहिए। कुछ लोग इस दिन सोने चांदी के सिक्के खरीदते है। ऐसा करना बहुत शुभ रहता है। इस दिन खरीदे गए सिक्के से दीपावली के दिन महत्वपूर्ण पूजा होती है।

 

राशि के अनुसार

मेष- धनतेरस के दिन शाम के समय घर के मुख्य द्वार पर तेल के दीपक में दो काली गुंजा डाल दें, तो साल भर आर्थिक लाभ प्राप्त होगा।

वृषभ- अगर संचित धन लगातार खर्च हो रहा है तो धनतेरस के दिन पीपल के पांच पत्ते पीले चंदन में रंगकर बहते हुए जल में छोड़ दें।

मिथुन- बरगद के पांच फल लाल चंदन में रंगकर नए लाल वस्त्र में कुछ सिक्कों के साथ बांधकर अपने घर अथवा दुकान में लटका दें लाभ होगा।

कर्क- अचानक धन लाभ के लिए धनतेरस के दिन शाम को पीपल के वृक्ष में तेल का पंचमुखी दीपक जलाएं।

सिंह- व्यवसाय में बरकत के लिए धनतेरस के दिन से गाय को हरा चारा डालें।

कन्या- जीवन में आर्थिक स्थिरता के लिए धनतेरस के दिन कमलगट्टे माता लक्ष्मी के मंदिर में अर्पित करें।

तुला- आर्थिक परेशानी से बचने के लिए धनतेरस के दिन शाम को लक्ष्मीजी के मंदिर में नारियल चढ़ाएं।

वृश्चिक- कर्ज से मुक्ति के लिए धनतेरस के दिन भगवान शंकर को ताजे फूलों की माला चढ़ाये लाभ होगा।

धनु- आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए धनतेरस के दिन गूलर के ग्यारह पत्तों को मौली से बांधकर वट वृक्ष पर बांध दें अवश्य लाभ होगा।

मकर- आमदनी में रुकावट हो रही है तो धनतेरस के दिन रुई का एक दीपक शाम के समय किसी तिहारे पर रखने से आपको धन लाभ होगा।

कुंभ- जीवन में सुख-समृद्धि के लिए धनतेरस की रात पूजा स्थल पर रात्रि में जागरण करना चाहिए।

मीन- यदि व्यवसाय में शिथिलता हो तो केले के दो पौधे रोपकर उनकी देखभाल करें तथा उनके फलों को गाय को खिलाएं।

 

पढ़ाई बन्द

प्रतिपदा (31 अक्टूबर) के दिन पढाई बंद रखनी है। सभी बच्चे ध्यान दें। दीपावली के दिन रात में अपनी फेवरेट किताब को खोलकर पूजा के दिए की रौशनी में थोडा सा पढ़िए फिर किताब को बंद करके, वहीं पूजा के पास रख दीजिये। अगले दिन किताब छूनी भी नहीं है। भैया दूज की पूजा के समय ही किताब की पूजा भी करिए, उसके बाद फिर पढ़ाई शुरु करिए। बड़े लोग अपने लैपटाप की पूजा सकते हैं।

Share this post

Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Delicious Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Digg Submit धनतेरस पर बनें धनवान in FaceBook Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Google Bookmarks Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Stumbleupon Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Technorati Submit धनतेरस पर बनें धनवान in Twitter